HomeYojanaलेबर कार्ड कैसे बनवाएं – How to Download Labour Card

लेबर कार्ड कैसे बनवाएं – How to Download Labour Card

यदि आप मजदूरी के रूप में कही कार्य कर रहे हो तो आप अपने ठेकेदार तथा नियोजक के लेटर पेड़ के आधार पर अपना श्रमिक कार्ड बनवा सकते हो।

श्रमिक कार्ड बनवाने हेतु आवश्यक दस्तावेज

  1. आवेदन फॉर्म (यदि आपके पास नहीं है तो यहाँ क्लिक करके डाउनलोड करे – डाउनलोड फॉर्म
  2. राशन कार्ड
  3. जन आधार कार्ड
  4. एक फोटो
  5. आधार कार्ड
  6. ठेकेदार अथवा नियोजक का कम से कम 90 दिवस कार्य करने का प्रमाण पत्र (जो की फॉर्म तथा लेटर पेड दोनों पर हक्ताक्षर और मोहर के साथ प्रमाणित करेगा )
  7. इसके साथ आपको ठेकेदार अथवा नियोजक की एक id भी लगानी होगी।

आपको उपरोक्त दस्तावेज तो देने ही है लेकिन जो मुख्य चीज वह है ठेकेदार रिपोर्ट और ठेकेदार रिपोर्ट में निम्न जानकारी देना अनिवार्य हो गया है –

इसलिए जानकारी नहीं देते हो आपका श्रमिक कार्ड नहीं बनाया जाएगा। ठेकेदार को अपना लेटर पैड , आधारकार्ड की प्रतिलिपि और पैन कार्ड नंबर इसके साथ अपना जीएसटी नंबर भी देना होगा और लेटर पैड पर निम्न जानकारी देनी होगी कार्य का नाम , कार्य कि लागत , कहा कार्य किया जगह का नाम और कितने दिन कार्य किया और कितनी मजदूरी दी गई।

असंगठितक्षेत्र के मजदूरों के लिए सरकार ने पांच योजनाएं शुरू की है। इन योजनाओं का लाभ मजदूरों को लेबर कार्ड बनाने के तत्काल बाद मिलेगा। इसके लिए श्रम विभाग ठेका मजदूरों की पहचान के लिए उनका पंजीकरण कर लेबर कार्ड बना रहा है। श्रम विभाग की ओर से निशुल्क लेबर कार्ड बनाया जा रहा है।

लेबर कार्ड बनते ही मजदूरों काे मिलेगा योजनाओं का लाभ

लेबर कार्ड बनते ही मजदूर का दुर्घटना बीमा हो जाएगा। इसके लिए उन्हें किसी तरह का अंशदान नहीं करना पड़ेगा। बीमा के तहत यदि दुर्घटना में मौत होती है तो एक लाख रुपए, सामान्य मृत्यु की स्थिति में 30 हजार रुपए, आंशिक अपंगता पर 37,500 रुपए, पूर्ण अपंगता पर 75,000 रुपए मिलेंगे।

निबंधित असंगठित कर्मकार के दो बच्चों को कक्षा नौ से 12वीं तक, आईटीआई या पॉलिटेक्निक में अध्ययनरत रहने पर 1200 रुपए प्रतिवर्ष छात्रवृति दो किश्तों में मिलेगी। दुर्घटना में घायल होने के पश्चात कम से कम पांच दिनों तक अस्‍पताल में भर्ती रहने की स्थिति में 5000 रुपए तक की चिकित्सा सहायता मिलेगी। असाध्य रोगों से ग्रसित होने पर जिला स्तरीय मेडिकल बोर्ड की अनुशंसा पर पूर्ण चिकित्सीय खर्च दिया जाएगा।

न्यूनतम मजदूरी का होगा भुगतान

निबंधित असंगठित कामगार के परिवार के दो सदस्यों को स्थानीय स्तर पर उपलब्ध रोजगारोन्मुख व्यवसायों का प्रशिक्षण, प्रशिक्षण अवधि में न्यूनतम मजदूरी का भुगतान किया जाएगा।

मुख्यमंत्रीअसंगठित कामगार स्वावलंबन पेंशन योजना

18से 55 आयु वर्ग के निबंधित असंगठित कामगार द्वारा वर्ष में 1000 रुपए अंशदान देने पर उनके पेंशन खाते में 1000 रुपए केन्द्र सरकार जमा करेगी।

बंधुआमजदूर योजना

सक्षमपदाधिकारी द्वारा निबंधित असंगठित कामगार को बंधुआ मजदूर घोषित होने पर एक मुश्त 50,000 रुपए अनुग्रह राशि दी जाएगी।

अन्य किसी भी योजना से अावास हेतु अनुदान या वित्तीय सहायता प्राप्त नहीं होने पर और अपना पक्का आवास नहीं होने पर इस योजना का लाभ मिलेगा।

डाउनलोड लेबर कार्ड – यहां क्लिक करें

Leave a Comment